publicnewslive

  TRENDING
Next
Prev

हैरिग्टनगंज: पुलिस की निष्क्रियता के चलते हुई मारपीट में महिला गंभीर रूप से घायल

हैरिग्टनगंज: पुलिस की निष्क्रियता के चलते हुई मारपीट में महिला गंभीर रूप से घायल

मिल्कीपुर_अयोध्या

============== हैरिग्टनगंज चौकी अंतर्गत ग्रामसभा रेवना में बाग से रास्ते के विवाद के चलते दबंगों ने महिला को बर्बरता पूर्वक पीटते हुए लहूलुहान कर दिया। हमले में घायल महिला के पति की तहरीर पर इनायत नगर पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध हत्या के प्रयास सहित गंभीर आपराधिक धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। हालांकि समूचे घटनाक्रम में चौकी प्रभारी हैरिंग्टनगंज की लापरवाही एवं शिकायतों के बावजूद भी उदासीनता बरते जाने का मामला प्रकाश में आया है।
बताते चलें कि इनायत नगर थाना क्षेत्र के हैरिंग्टनगंज चौकी क्षेत्र स्थित रेवना निवासी संजय सिंह एवं दल बहादुर सिंह के बीच भाग-1 से होकर गुजरने वाले रास्ते का विवाद था जिसको लेकर संजय सिंह ने चौकी प्रभारी हैरिंग्टनगंज उपनिरीक्षक यशवंत द्विवेदी से कई बार शिकायत की थी और अपने परिवारी जनों के ऊपर हमला किए जाने की आशंका भी जाहिर की थी किंतु पीड़ित संजय से की शिकायत के बावजूद भी चौकी प्रभारी नहीं कहते और दबंगों के हौसले बुलंद हो गए। संजय सिंह ने इनायत नगर थाने के प्रभारी निरीक्षक को दी गई।
तहरीर में आरोप लगाया कि बीते 14 जून प्रात: करीब 8:15 बजे दल बहादुर सिंह रण बहादुर सिंह पुत्रगण छैल बिहारी सिंह शुभम सिंह उर्फ नागोरा सिंह आदर्श सिंह पुत्र बहादुर सिंह बीना सिंह पत्नी रन बहादुर सिंह उनके दरवाजे पर चढ़ आए थे और भद्दी भद्दी गालियां देने लगे जब घर में मौजूद उनकी पत्नी अर्चना सिंह ने विरोध जताया तब उपरोक्त लोगों ने घर में घुसकर उनकी पत्नी को घसीटते हुए बाहर मारते ले आए और जब उनकी पत्नी ने गुहार लगाकर भागना चाहता उपरोक्त लोगों ने घेराबंदी करके उनकी पत्नी को लाठी-डंडों और धारदार हथियार से बुरी तरीके से मार डालने की नियत से सिर में चाकू मार दिया जिससे वह लहूलुहान होकर मौके पर ही गिर पड़ी और बेहोश हो गई। उपरोक्त हमलावर उनकी पत्नी को मृत समझ कर मौके से भाग निकले। यही नहीं इससे भी जी नहीं भरा तो हमलावरों ने 8 फीट की ऊंची लंबी दीवार को गिरा दिया और रास्ते को बंद करने की नियत से अवैध कबजा भी करने लगे।
पीड़ित की शिकायत पर इनायत नगर थाने के प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह ने आरोपियों के विरुद्ध धारा 147, 452, 323, 354, 504, 324, 427 एवं 506 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। हालांकि पुलिस अभी किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।
पीड़ित संजय सिंह का आरोप है कि हैरिगटनगंज चौकी पुलिस से शिकायत करने के बावजूद भी कोई कार्यवाई नहीं हो सकी। हमले के बाद भी चौकी इंचार्ज को पीड़िता के पति संजय सिंह द्वारा चौकी इंचार्ज को कई बार फोन करने के बाद भी कहा गया दो सिपाहियों को भेज दिया गया है। संजय का आरोप है कोई भी सिपाही घटना के बाद भी मौके पर नही पंहुचा। फिलहाल हमले में घायल महिला गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया जहां अस्पताल के डॉक्टरों ने हालत गंभीर देख घायल महिला को लखनऊ मेडिकल कालेज रेफर कर दिया है। फिलहाल प्रश्न जरूर उठता है कि पुलिस की कार्यशैली पर, आखिर पहले से हमले व हत्या की सूचना पर हैरिंगटनगंज चौकी पुलिस क्योंं नहीं सक्रिय हुई। हमले के बाद भी आखिर स्वयं क्यों नही मौके पर पहुंची। यही नहीं सबसे अहम पहलू तो यह रहा कि चौकी प्रभारी किस कारण से हमले के तत्काल बाद 5 दिनों की लंबी छुट्टी पर चले गए।

publicnewslive
Author: publicnewslive

इन्हे भी जरूर देखे