Public News Live

पत्रकारों के चरित्र पर दाग लगाना उप जिलाधिकारी को पड़ा महंगा

समाचार मिल्कीपुर


पत्रकारों के चरित्र पर दाग लगाना उप जिलाधिकारी को पड़ा महंगा

पूर्व में एक महिला के द्वारा मुख्यमंत्री पोर्टल पर जिलाधिकारी महोदय को ऑनलाइन शिकायत के माध्यम से ,चेक मार्ग अवरुद्ध की शिकायत की गई थी

जिसकी जानकारी जनपद के पत्रकारों को होने पर खबर प्रमुखता से चलाई गई

अयोध्या।

मिल्कीपुर तहसील में पत्रकारों के चरित पर दाग लगाना उप जिलाधिकारी को पड़ा महंगा, पूर्व में एक महिला के द्वारा मुख्यमंत्री पोर्टल वह जिलाधिकारी महोदय को ऑनलाइन शिकायत के माध्यम से चक मार्ग और उसकी शिकायत की गई थी।

वहीं पर दबंग लेखपाल कमलेश तिवारी के द्वारा विनाशक माल खाली कराई गलत रिपोर्ट प्रेषित की गई एक नहीं बल्कि दो रिपोर्ट गलत लगाएं।

जिसकी जानकारी जनपद के पत्रकारों को होने पर खबर पब्लिक न्यूज़ लाइव की टीम के द्वारा प्रमुखता से चलाई।

वही एक बार फिर पीड़ित महिला के द्वारा तहसील संपूर्ण समाधान दिवस के मौके पर चकमा खा ली ना किए जाने की बात उपजिलाधिकारी दिग विजय प्रताप सिंह से कहने पर भ्रष्ट उप जिलाधिकारी चक मार्ग खाली कराने की बात ना करते हुए पत्रकारों पर ही आरोप लगाना शुरू कर दिया।

उप जिलाधिकारी ने पीड़ित महिला से कहा कितना पैसा पत्रकारों को दिए हो क्या पत्रकार तुम्हारे यहां घर बनाने जाएगा वह क्या कर लेगे जैसी बात वीडियो में कैद हो गई जिसकी जानकारी जनपद के पत्रकारों को होने पर भारी आक्रोश व्यक्त हो उठा।

वही जानकारी देने के लिए पत्रकार की भीड़ तहसील प्रांगण में एकत्रित होकर उप जिलाधिकारी से जाने का प्रयास किया तो वरिष्ठ उप जिलाधिकारी महोदय के द्वारा जानकारी देना मुनासिब नहीं समझा और अपनी ही बातों को नकारते हुए हमने किसी महिला से कुछ नहीं कहा कि बातें कहकर ड्राइवर से गाड़ी चलाने को कहा जहां पर लगभग सैकड़ों की संख्या में पत्रकार मौजूद या भी नहीं समझा कि किसी प्रकार के ऊपर गाड़ी चल सकती है चारों की भांति भागे जिसका प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए मिल्कीपुर के उपजिलाधिकारी दिग्विजय प्रताप सिंह के कार्य क्षेत्र में किया गया फेरबदल

publicnewslive
Author: publicnewslive

[the_ad id="228"]

इन्हे भी जरूर देखे