Public News Live

पुलिस चौकी में मुकदमे में सुलह न करने पर युवक की बर्बरता पूर्वक पिटाई

पुलिस चौकी में मुकदमे में सुलह न करने पर युवक की बर्बरता पूर्वक पिटाई
▪️घायल युवक को इलाज के लिए जिला अस्पताल में परिजनों ने कराया भर्ती
▪️पीड़ित युवक के भाई ने एसएसपी से शिकायत कर कार्यवाही की लगाई गुहार

अयोध्या

======= जिले के खंडासा थाना क्षेत्र के कन्दई कला चौकी क्षेत्र अंतर्गत कीन्हू पुर गांव निवासी 30 वर्षीय युवक को चौकी प्रभारी सहित चौकी के दो सिपाहियों द्वारा बर्बरता पूर्वक पीट-पीटकर लहूलुहान किए जाने का मामला प्रकाश में आया है।
घटना के बाद पीड़ित युवक के भाई ने एसएसपी को शिकायती प्रार्थना पत्र देकर चौकी प्रभारी सहित दोनों सिपाहियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की है। उधर पुलिस की पिटाई से घायल युवक का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। कीन्हूपुर गांव निवासी मनोज कुमार सिंह पुत्र देवी प्रसाद सिंह ने एसएसपी को दिए गए शिकायती पत्र में आरोप लगाया है कि डिप्टी रजिस्ट्रार अयोध्या के न्यायालय में एक मुकदमा देवी प्रसाद सिंह बनाम राजेंद्र सिंह विचाराधीन है। बीते 4 जुलाई समय लगभग 11.30 बजे दिन में चौकी के दो सिपाही मोहित एवं प्रमोद उनके गांव स्थित स्कूल पर आए और उनके भाई उदय प्रताप सिंह पर दोनों सिपाही उपरोक्त मुकदमे में सुलह करने का दबाव बनाने लगे। उदय प्रताप की मना कर देने पर दोनों बेअंदाज सिपाहियों ने उन्हें फर्जी मुकदमे में फसाकर जेल भेजवा देने की धमकी तक दे डाली। उदय प्रताप सिंह जब सिपाहियों के दबाव में नहीं आए तब दोनों सिपाही उनके भाई को चौकी उठा ले गए। चौकी इंचार्ज ब्रह्म दत्त पांडे व सिपाही सौरभ तिवारी भी मौजूद थे। जैसे ही चौकी इंचार्ज के सामने उनका भाई उदय प्रताप पहुंचा वैसे ही चौकी इंचार्ज आग बबूला हो गए और मां बहन की गंदी गंदी गाली देने लगे और कहने लगे कि समझाने से तुम्हारे समझ में नहीं आ रहा है। कह रहा हूं कि सुलह कर लो नहीं तो जेल में जिंदगी भर सड़ जाओगे। चौकी प्रभारी के सामने जब उदय प्रताप सुलह की बात नहीं माने तो उन्हें चौकी के पुलिसकर्मियों ने लात घुसा वह लाठी-डंडों से मारा पीटा। मारे पीटे जाने के घायल युवक की हालत गंभीर देख हड़बड़ाए चौकी प्रभारी ने 151 सी आर पी सी के तहत उनके भाई का चालान कर दिया। उप जिलाधिकारी मिल्कीपुर के न्यायालय भेजे जाने से पहले उनके भाई का मेडिकल परीक्षण भी पुलिस कर्मियों द्वारा नहीं कराया गया। मंगलवार को पुलिस की मार से घायल युवक उदय प्रताप की हालत बिगड़ गई है और उसे परिजन आनन-फानन में इलाज के लिए एंबुलेंस कॉल कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मिल्कीपुर पहुंचाया जहां हालत गंभीर देख अस्पताल के डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार कर जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जिला अस्पताल में घायल युवक का इलाज चल रहा है हालांकि डॉक्टरों ने युवक की हालत खतरे से बाहर बताई है।


फिलहाल चौकी प्रभारी सहित चौकी के सिपाहियों की करतूतों को लेकर क्षेत्र में चर्चाओं का बाजार गर्म है। अब शिकायतों के बाद देखना है कि नवागत एसएसपी अपने ऐसे वेअंदाज मातहतों के खिलाफ कोई कार्यवाही अमल में लाएंगे।

publicnewslive
Author: publicnewslive

[the_ad id="228"]

इन्हे भी जरूर देखे