Public News Live

वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ 12 की मौत

तंग रास्ते पर श्रद्धालु में आगे निकलने की होड़ में हुई हाथापाई मृतकों में 7 उत्तर प्रदेश के

राज्य ब्यूरो

नव वर्ष पर माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए भवन पर उमड़ी भारी भीड़ से मची भगदड़ मच गई इस हादसे में 12 श्रद्धालुओं की मौत और 15 अन्य घायल हो गए मरने वालों में उत्तर प्रदेश के 7 लोग हैं कानपुर और सहारनपुर के दो दो और गाजियाबाद और गोरखपुर के एक-एक श्रद्धालुओं की हादसे में मौत हो गई 6 लोगों के निवासस्थान की पुष्टि हो गई है

घटना शुक्रवार आधी रात के बाद करीब 2:15 बजे हुई चश्मदीदों के अनुसार भवन पर एक तंग जगह पर दर्शन के लिए आगे बढ़ रहे और लौट रहे श्रद्धालुओं के बीच धक्का-मुक्की और हाथापाई की स्थिति गंभीर हो गई वहीं कुछ लोगों का कहना है कि श्रद्धालु पर नियंत्रण करने के लिए पुलिस ने हल्का लाठीचार्ज किया जिससे भगदड़ मच गई उपराज्यपाल ने हादसे की जांच का आदेश दे दिया है साथ ही मृतकों के स्वजनों को द ₹1000000 व घायलों को दो ₹200000 देने की घोषणा की है घायल श्रद्धालुओं को कटडा के नारायण अस्पताल में भर्ती करवाया गया हादसा भवन के गेट नंबर 3 के पास हुआ भवन माता पिता के श्रद्धालुओं से खचाखच भरा हुआ था पुलिस चौकी से कुछ ही दूर क्लास रूम के बाहर से श्रद्धालु आ जा रहे थे जिस जगह हादसा हुआ वहां रास्ता काफी तंग है श्रद्धालु आगे नहीं बढ़ पा रहे थे इसी दौरान कुछ श्रद्धालु में आपस में बहस हो गई फिर धक्का-मुक्की और मारपीट शुरू हो गई मौके पर मौजूद पुलिस ने उन्हें काबू करने के लिए हल्का लाठीचार्ज किया इसके बाद भगदड़ मच गई हजारों की संख्या में मौजूद श्रद्धालुओं को पता नहीं चला कि आखिर क्या हुआ है भवन में चीख-पुकार मच गई सभी जान बचाने के लिए भागे एक दूसरे के ऊपर से गुजर रही गई श्राइन बोर्ड प्रशासन और पुलिस ने बचाव कार्य शुरू किया लेकिन तब तक 12 श्रद्धालु की मौत हो चुकी थी 15 श्रद्धालु में से 4 श्रद्धालुओं को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई वही मृतकों के शव को कटडा स्टील कम्युनिटी हेल्थ सेंटर मिलाया गया सभी 12 श्रद्धालुओं की पहचान हो गई नारायण अस्पताल में भर्ती 11 में से 6 इंटेसिव केयर यूनिट में भर्ती हैं

उनमें से चार की हालत गंभीर बनी हुई है इस बीच जांच के लिए गठित तीन सदस्यीय उच्च स्तरीय कमेटी की अध्यक्षता गिरे विभाग के प्रमुख सचिव करेंगे

प्रधानमंत्री ले रहे थे जानकारी

घायलों का हाल जानने के लिए पीएमओ नए राज्य मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह और उपराज्यपाल नारायण अस्पताल पहुंचे जितेंद्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं हादसे की जानकारी ले रहे हैं अगर जरूरत पड़ी तो घायलों को बाहर के अस्पताल में भी भेजा जा सकता है

दुर्घटना का कारण

भवन पर 1 दिन में तय 25000 से कही अधिक श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंचे चश्मदीदों का कहना है कि नववर्ष पर माता के दर्शन के लिए 80000 से 100000 के बीच श्रद्धालु पहुंचे थे

पहले अधिक श्रद्धालु होने पर कटडा मैं ही यात्रा को रोक लिया जाता था लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ और सभी को भवन में जाने दिया गया जिस जगह हादसा हुआ वहां पर पहले ही कम जगह है वहां पर भगदड़ मचने से किसी को भागने के लिए पर्याप्त जगह नहीं मिल पाई

सहारनपुर और कानपुर के दो-दो और गाजियाबाद और गोरखपुर के एक एक श्रद्धालु की मौत

उपराज्यपाल ने दिए जांच के आदेश मृतकों के सवा जनों को द ₹1000000 और प्रत्येक घायल को दो ₹200000 दिए जाएंगे

publicnewslive
Author: publicnewslive

[the_ad id="228"]

इन्हे भी जरूर देखे