Public News Live

बीजेपी नेत्री श्वेता सिंह की संदिग्ध मौत का खुला भेद पति पत्नी के विवाद का वीडियो वायरल

बांदा में बीजेपी नेत्री और जिला पंचायत सदस्य श्वेता सिंह गौर की मौत के मामले में कानून व्यवस्था के तमाम दावों की पोल खोल दी है। दरअसल, बांदा में पूर्व IPS की बहू श्वेता सिंह की हाल ही में संदिग्ध मौत होने के बाद एक पुरानी वीडियो सामने आई है।

इस वीडियों में साफ तौर पर सुना और देखा जा सकता है कि श्वेता सिंह अपने पति को गाली देने के वजह से एक थप्पड़ जड़ देती हैं। यह वीडियो कब का है, इस पर कुछ कहा नहीं जा सकता है। बता दें कि जिला पंचायत सदस्य और बीजेपी की महिला मोर्चा की महामंत्री श्वेता का बुधवार को फंदे से लटकता हुआ शव मिला था।

जारी वीडियो में श्वेता और उसके पति किसी मामले को लेकर झगड़ते दिखाई दे रहे हैं। श्वेता अपने पति से कहती हैं कि मुझसे दूर रहकर बात करो। पत्नी के बातों का जवाब देते हुए पति दीपक कहते हैं कि तुझे कौन छू रहा है। उसके बाद वो पत्नी को कुछ अपशब्द कहता है, जिसके बाद पत्नी उसे थप्पड़ लगा देती हैं। श्वेता थप्पड़ मारने के बाद पति से कहती हैं कि मुझे एक भी अपशब्द बोला तो इसी तरह से थप्पड़ मारूंगी। पति ने हैरानी जताते हुए कहा कि मुझे थप्पड़ मारा।

गौर करने वाली बात यह है कि वीडियो को अगर ध्यान से सुना जाए तो उसमें किसी तीसरे की भी आवाज सुनाई दे रहा है। दीपक उस तीसरे व्यक्ति को संबोधित करते हुए कि श्वेता, उसके मामा राजेश सिंह को यहां आने नहीं दे रही है। आखिर इससे पूछो कि वो क्यों उनको यहां आने नहीं देना चाहती है, क्या कराण है ? इसी बात का उत्तर दे दे तो आज सब मामला रफा-दफा हो जाएगा।

उन दोनों के बीच बैठा तीसरा व्यक्ति कहता है कि श्वेता जी जब यही बात है तो बता ही दीजिए मामा को न आने देने का कोई बड़ा या छोटा कारण जो भी हो। उसी दौरान दीपक मामा को फोन लगाकर पूछता है कि मामा आपको श्वेता यहां क्यों नहीं आने देना चाहती है तो, उन्होंने कहा की उसी से पूछो। तब फिर दीपक अपने पत्नी श्वेता से पूछता है तो श्वेता इस पर मौन रहती है। इसके बाद दीपक कहता है कि मामा न आप बता रहे हैं और न श्वेता बता रही है। मै इसी बात को लेकर बहुत परेशान हूं।

दीपक बार-बार अपशब्दों का प्रयोग कर मामा के न आने कारण पूछता है, जिस पर श्वेता कहती है कि मामा के यहां न आने कारण मै आपके पापा को बताउंगी। आपको नहीं बताउंगी, वो आदमी राजेश सिंह यहां क्यों नहीं आना चाहिए, क्योंकि यहां मेरी बेटियां हैं।

बता दें कि मिली जानकारी के अनुसार दीपक थप्पड़ खाने के बाद तलाक की बात करने के लिए ससुराल भी पहुंच जाता है। ससुराल में दीपक की बात सुनने के बाद दीपक की सास कहती हैं कि अगर तुम्हें फांसी पर न लटकवाए तो कहना, बता दे रहे हैं। श्वेता को बचा लोगी क्या ? तब सास इस पर जवाब देते हुए कहती है कि हां मै श्वेता को बचा लूंगी।

इसके बाद दीपक सास से कहता है कि जब मै श्वेता से कहता हूं तलाक ले लो तो क्यों नहीं तलाक लेकर अपने घर आ रही है। उस पर सास कहती है कि क्यों जाए वो अपना घर छोड़ कर । उन्होंने कहा कि शादी करके तुमा ले गए हो। उसके बाद दीपक कहता है कि वो मुझसे कह रही थी कि मैं चली आउंगी, तभी वहां मौजूद दूसरी महिला कहती है कि वो गुस्से में कह दी होगी। उसकी सास कहती है कि थोड़ा आराम से बोलिए, लग रहा कि आप शराब के नशे में यहां आए हैं।

इस घटन से पहले श्वेता अपने झेठाने को एक मैसेज भेजती है कि मै टूट गई हूं और आगे लिखा था कि अगर मुझे कुछ होता है तो उसका जिम्मेदार उसका पति दीपक होगा। मैं जिंदा रहूंगी तो फिर मिलूंगी, मै टूट गई हूं, मोझे टॉर्चर किया जा रहा है। ऐस लगता है कि कुछ कर लूं।

बता दें कि बांदा के इंदिरानगर में रहने वाली श्वेता का शव बुधवार को घर में साड़ी के फंदे से लटकता मिला। परिजनों के सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया था।

publicnewslive
Author: publicnewslive

[the_ad id="228"]

इन्हे भी जरूर देखे