Public News Live

जालोर हत्याकांड : भीम आर्मी चीफ को जोधपुर एयरपोर्ट पर किया गया गिरफ्तार

जालोर हत्याकांड : भीम आर्मी चीफ को जोधपुर एयरपोर्ट पर किया गया गिरफ्तार

जोधपुर : जालोर के चर्चित इंद्र मेघवाल हत्याकांड मामले में न्याय की मांग करने पहुंचे भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आज़ाद को जोधपुर एयरपोर्ट पर ही गिरफ्तार कर लिया गया है। आज़ाद के आने की खबर पर पहले से ही पुलिस उनकी ताक में बैठी थी।

आज़ाद ने किया था जालोर जाने का एलान

चंद्रशेखर आज़ाद ने 18 अगस्त (गुरुवार) को जालोर पहुंचने का एलान कर रखा था। उन्होंने एक फेसबुक लाइव में कहा था कि भले ही राजस्थान से उनकी लाश वापस आए लेकिन वो इंद्र मेघवाल को न्याय दिलाए बिना वापस नहीं लौटेंगे। लेकिन आज जैसे ही वो एयरपोर्ट पर पहुंचे, पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

समर्थकों ने चलाया ट्विटर ट्रेंड  आज़ाद की गिरफ्तारी की खबर आते ही उनके समर्थकों का गुस्सा सोशल मीडिया पर फूट पड़ा। ट्विटर पर उनके समर्थक #ReleaseChandraShekharAazad हैशटैग चला रहे हैं। लोग अशोक गहलोत सरकार पर भी निशाना साध रहे हैं।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल जालोर के सुराणा गांव में कथित तौर पर सवर्ण टीचर के लिए रखे मटके से पानी पीने पर तीसरी क्लास के छात्र इंद्र मेघवाल की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले को लेकर बहुजन समाज में काफी आक्रोश है। इस मामले में आज़ाद ने भी जालोर पहुंचने का एलान किया था लेकिन उनकी गिरफ्तारी के बाद अशोक गहलोत सरकार से ये सवाल पूछा जा रहा है कि क्या दलितों के लिए न्याय की मांग करना भी गुनाह हो गया है ?

publicnewslive
Author: publicnewslive

[the_ad id="228"]

इन्हे भी जरूर देखे

बिजली कटौती पर सीएम योगी का कड़ा रुख, अधिकारियों को दिया यह आदेश
लखनऊ
=======मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऊर्जा विभाग और पावर कारपोरेशन के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि बिजली कटौती बंद करें। सभी क्षेत्रों को निर्धारित रोस्टर (शिड्यूल) के मुताबिक बिजली की आपूर्ति हर हाल में की जाए। इसके लिए जो भी व्यवस्था करनी हो करें। जरूरत है तो अतिरिक्त बिजली खरीदने की व्यवस्था करें।
मुख्यमंत्री ने सोमवार को ऊर्जा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। सीएम ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से प्रदेश के कई क्षेत्रों में निर्धारित रोस्टर के अनुसार बिजली आपूर्ति न होने की शिकायतें मिल रही हैं। यह बैठक इसी मुद्दे पर बुलाई गई।
मुख्यमंत्री ने बैठक में निर्देश दिए कि ऊर्जा विभाग व पावर कॉर्पोरेशन यह सुनिश्चित करे कि पूर्व निर्धारित रोस्टर के अनुसार सभी क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति हो। इस मामले में यूपीपीसीएल की लापरवाही स्वीकार नहीं की जाएगी। तेज गर्मी, लू का मौसम चल रहा है। ऐसे में गांव हो या शहर, कहीं भी अनावश्यक बिजली कटौती न हो।
मुख्यमंत्री ने नगरों में स्मार्ट मीटर लगाने की कार्यवाही में तेजी लाने को कहा। हर गांव-हर घर में बिजली का उजियारा होना चाहिए। बिजली के क्षेत्र में व्यापक सुधार की जरूरत है। यह भी कहा कि बिजली आपूर्ति होती रहे इसके लिए बिल का भुगतान जरूरी है। हर उपभोक्ता की यह ज़िम्मेदारी है कि वह समय से बिजली बिल का भुगतान करें। ऊर्जा विभाग बकायेदारों से लगातार संपर्क करें, संवाद करें। गांवों में स्वयं सहायता समूहों / बीसी सखी के जरिये बिल संकलन के लिए विचार करें। यह सुनिश्चित किया जाए कि एक भी उपभोक्ता को गलत बिजली बिल न मिले और सभी को समय से बिल मिल जाए। ओवरबिलिंग अथवा विलंब से बिल दिया जाना उपभोक्ता को परेशान तो करती ही है, व्यवस्था के प्रति निराश भी करती है।
मुख्यमंत्री ने बिजली चोरी करने वालों के विरुद्ध पूरी सख्ती से कार्रवाई करने को कहा। उन्होंने कहा कि बकायेदारों के लिए एकमुश्त समाधान की योजना लागू की जानी चाहिए। बिजली उत्पादन के लिए कोयले की उपलब्धता सतत बनाये रखी जाए। अभी हमारे पास कोयले की कमी नहीं है, किंतु मांग के अनुरूप कोयले की आपूर्ति सुगम बनी रहे, इसके लिए भारत सरकार से सतत संवाद बनाए रखें।