Public News Live

कोरोना नियंत्रण में प्रदेश की नीति कारगर:Yogi

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा ट्रेसिंग, टेस्टिंग, ट्रीटमेंट और टीकाकरण की नीति तीसरी लहर पर भी प्रभावी

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोविड से बचाव की प्रदेश सरकार की ट्रेसिंग, टेस्टिंग, ट्रीटमेंट और टीकाकरण की नीति उम्मीद के अनुसार सफ ल रही है। यह तीसरी लहर पर भी प्रभावी नियंत्रण में सहायक सिद्ध हो रही है। एक ओर नए मामलों की संख्या कम हो रही है, वहीं संक्रमण से स्वस्थ होने वालों की संख्या उत्साहवर्धक है। वे सोमवार को टीम-9 के साथ कोविड-19 की स्थिति की वर्चुअल समीक्षा कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि एक्टिव केस और पॉजिटिविटी दर में लगातार गिरावट आ रही है। ये अच्छे संकेत हैं। उन्होंने लोगों को कोविड प्रोटोकॉल के पालन के लिए लगातार अभियान जागरूकता चलाने के निर्देश दिए। कहा, सतर्कता व सावधानी बहुत जरूरी है। उन्होंने निगरानी समितियों को सभी जरूरतमंदों के सहयोग के लिए लगातार सक्रिय रखने के निर्देश दिए। कहा, प्रत्येक जरूरतमंद को मेडिसिन किट, कोरोना जांच व उपचार आदि की सुविधाएं तत्काल मुहैया कराएं। उन्होंने चुनाव ड्यूटी पर लगाए जाने वाले कार्मिकों को पोकॉशन डोज देने की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। वैक्सीन को उपलब्धता के लिए केंद्र सरकार से लगातार संपर्क बनाए रखें।

अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सोमवार से अभियान शुरू किया गया है। 29 जनवरी तक चलने वाले प्रदेशव्यापी अभियान के दौरान आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की टीम घर-घर दस्तक देकर संदिग्ध मरीजों को निःशुल्क मेडिकल किट मुहैया कराएगी। जरूरत पर इनकी कोरोना जांच भी कराई जाएगी। कोरोना टीकाकरण न कराने वालों को चिह्नित कर तत्काल उनका टीकाकरण कराएंगे। इस पर सीएम ने अभियान की शासन स्तर से दैनिक मॉनिटरिंग के निर्देश दिए।

कोरोना के 11,159 नए मामले सामने आए

मुख्यमंत्री को बताया गया कि पिछले 24 घटों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 11,159 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 10,836 संक्रमिता को ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी भी दी गई है। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों को संख्या 93,924 है। इस दौरान प्रदेश में 1.86 लाख से ज्यादा कोरोना टेस्ट किए गए।

publicnewslive
Author: publicnewslive

[the_ad id="228"]

इन्हे भी जरूर देखे