Public News Live

कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए जिला स्तर पर की जाए तैयारी: प्रधानमंत्री

संक्रमण में तेज वृद्धि के चलते पैदा हुई परिस्थिति की पीएम मोदी ने की समीक्षा

नई दिल्ली:

तेजी से फैलती कोरोना महामारी की तीसरी लहर के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को इससे निपटने की तैयारियों का जायजा लिया। प्रधानमंत्री ने जिला स्तर पर स्वास्थ्य ढांचे को तैयार करने का निर्देश दिया। किशोरों के साथ-साथ सोमवार से शुरू हो रहे फ्रंटलाइन वर्कर, स्वास्थ्यकर्मी और 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को सतर्कता डोज लगाने के अभियान को मिशन मोड पर पूरा करने को कहा। प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्यों में हालात की समीक्षा के लिए जल्द ही मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई जाएगी। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के साथ-साथ गृह, स्वास्थ्य, फार्मा व अन्य मंत्रालय के सचिव और वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे

बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने देश-विदेश में ओमिक्रोन वैरिएंट के कारण कोरोना के बढ़ते मामलों की जानकारी दी। उन्होंने इस वैरिएंट की संक्रामकता और गंभीरता को लेकर दुनिया भर के अनुभवों को भी साझा किया। भूषण ने प्रधानमंत्री को बताया कि कोरोना पैकेज-दो के तहत राज्यों में स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत किया गया है। इसमें टेस्टिंग की क्षमता, आक्सीजन और आइसीयू बिस्तरों की उपलब्धता और जरूरी दवाइयों का स्टाक शामिल है। इस पर प्रधानमंत्री ने जिला स्तर पर स्वास्थ्य ढांचे को तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयार करने और इसमें राज्यों की मदद करने का निर्देश दिया। केवल सात दिन के भीतर 31 प्रतिशत किशोरों को टीके की पहली डोज लगाने की तारीफ करते हुए

प्रधानमंत्री ने इसे मिशन मोड पर जल्द से जल्द पूरा करने को कहा 3 जनवरी से 15 से 18 साल के बीच के किशोरों का टीकाकरण शुरू हुआ था और अब तक करीब ढाई करोड़ डोज उन्हें लगाई जा चुकी है प्रधानमंत्री ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्य कर्मियों और की भूमिका की तारीफ की और सोमवार को शुरू होने जा रहे सतर्कता डोज को भी मिशन मोड़ पर पूरा करने को कहा

कोरोनावायरस के खिलाफ आज से लगेगी सतर्कता डोज

नई दिल्ली:कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण के एक और चरण की सोमवार से शुरुआत हो रही है। इस चरण में स्वास्थ्यकर्मी , फ्रंटलाइन वर्कर और गंभीर रोगों से ग्रस्त 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन की तीसरी यानी सतर्कता डोज लगाई जाएगी।

चुनावी राज्यों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में चुनाव ड्यूटी में लगाए जाने वाले कर्मचारियों को भी सतर्कता डोज लगाई जाएगी क्योंकि इन्हें भी फ्रंटलाइन वर्कर की श्रेणी में रखा गया है केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने रविवार को ट्वीट ने कहा कि 1 करोड़ से अधिक स्वास्थ्य कर्मी फ्रंटलाइन वर्कर और वरिष्ठ नागरिकों को सतर्कता डोज लेने के लिए SMS के जरिए सूचना दी गई है

स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों ने बताया की सतर्कता डोज के लिए पात्र लाभार्थियों में करीब 1.05 करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों, 1.9 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर और 2.75 करोड़ 60 साल और उससे अधिक उम्र के लोग शामिल हैं

सतर्कता डोज ने लाभार्थियों को उसी वैक्सीन की डोज लगाई जाएगी जिसकी उन्हें पहले ही दोनों डोज लगी होंगी दूसरी डोज और सतर्कता डोज के बीच 9 महीने या 39 हफ्ते का अंतराल होगा

गृह मंत्री अमित शाह स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया भी रहे बैठक में मौजूद

राज्यों के हालात का जायजा लेने के लिए जल्द मुख्यमंत्री के साथ करेंगे बैठक

publicnewslive
Author: publicnewslive

[the_ad id="228"]

इन्हे भी जरूर देखे